Thu. Jan 20th, 2022

इस हफ्ते हो सकती है बारिश, गेहूं की बिज़ाई पर रखे ध्यान

इस आगामी हफ्ते के अंत मे नॉर्थ  व middle भारत के हिस्सों में कही हल्की कही भारी बारिश देगी दस्तक:

पिछले week  आई बारिश के प्रणाली के कारण south east rajasthan west MP व Gujrat में मॉनसून सीज़न के बाद की first बारिश दर्ज की गई।
हालांकि North India में November की शुरुआत से मौसम साफ ही बना हुआ है। बिना  बारिश के न ही धुँध आ रही है न ही तीखी ठंड का अहसास हो रहा है। वैसे तो गुलाबी ठंड October के end से ही पैर पैसार चुकी है लेकिन अभी तक न्यूनतम तापमान में खास गिरावट अभी तक नही है। जो बिना बारिश के संभव भी नही है।

30 November से 7 December के बीच North को को 2 पश्चिमी विक्षोभ प्रभावित करेंगे, जिनके कारण पहाड़ी इलाकों में बारिश व बर्फबारी होगी। इन  दिनों का असर north भारत के मैदानी इलाकों की middle व east India मे ज्यादा होगा।

Pacific ocean में एक cyclone और बंगाल की खाड़ी में बनने की संभावना है। दोनों समुद्र में बनने वाली प्रणालियां अलग-2 समय के साथ मिलकर मध्य व पुर्वी भारत में सक्रिय बारिश की गतिविधियों का कारण बनेगी।

उत्तर भारत:

उत्तर भारत के पहाड़ी राज्यो में 30 दिसंबर से 4 दिसम्बर के बीच आ रहे पहले प०वी० के कारण ऊंचे पहाड़ों पर हल्की से मध्यम बारिश व बर्फबारी होगी।
वही निचले पहाड़ी इलाकों में बिखरी हुई हल्की बरसात की गतिविधियां दर्ज की जाने की संभावना है।

उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में बारिश की गतिविधियां सिर्फ सीमित इलाको में ही होगी। उत्तर भारत का बड़ा मैदानी इलाका लगभग सूखा ही बना रहेगा। जिसमे पश्चिमी व उत्तर राजस्थान, पश्चिमी हरियाणा औऱ पश्चिमी पंजाब के इलाके शामिल हैं, इन इलाकों में अभी के अनुसार आने वाले दिनों में बारिश की संभावना बहुत ही कम है।

वही North punjab , east व north haryana , Delhi औऱ up में 1 दिसंबर से 4 दिसम्बर के बीच  कही-2 हल्की बारिश की संभावना बन रही है।

1 से 3 दिसंबर के बीच पुर्वी व दक्षिण-पुर्वी राजस्थान  में पिछली बार की तरफ हल्की से मध्यम बरसात की प्रबल संभावना है। कुछ जगह भारी बारिश भी संभव है।

उत्तर भारत को दूसरा west विक्षोभ 4 दिसम्बर से 7 दिसंबर के बीच प्रभावित करेगा। जिसकी जानकारी समयानुसार दे दी जाएगी।

Middle भारत:

मध्य भारत मे अरब सागर में बनने वाली प्रणाली औऱ पहले west विक्षोभ की हवाओ के टकराने के कारण बारिश की गतिविधियां जन्म लेंगी।

30 नवंबर से 4 दिसंबर के बीच पुर्वी सौराष्ट्र, दक्षिण गुजरात, मध्य गुजरात, पश्चिमी मध्यप्रदेश, और मध्य महाराष्ट्र के इलाकों में कई जगह हल्की से मध्यम बरसात संभव है। कुछ जगह भारी बारिश भी देखने को मिल सकती है।

पश्चिमी सौराष्ट्र व उत्तर गुजरात, पुर्वी मध्यप्रदेश में इस दौरान बादलवाही के बीच। कही-2 हल्की बारिश या बूंदाबांदी होने की उम्मीद है।

पुर्वी MP , , छत्तीसगढ़, ओडिशा.,झारखंड, bihar के इलाकों में बंगाल की खाड़ी में बनने वाली प्रणाली और दूसरे प०वी० के संयोग से सक्रिय बारिश की गतिविधियां देखने को मिल सकती है

By admin

2 thoughts on “इस हफ्ते हो सकती है बारिश, गेहूं की बिज़ाई पर रखे ध्यान”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *